चिप नहीं इस खास इंक के चलते पकड़ी जा रही 2000 के नोट की ब्लैकमनी

चिप नहीं इस खास इंक के चलते पकड़ी जा रही 2000 के नोट की ब्लैकमनी, जानिए क्‍या है नई अफवाह जानें सच्चाई
नोट बैन के बाद से देश भर में इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट की ओर से मारे जा रहे छापों में अब तक दर्जनों लोग करोड़ों रुपए की कीमत के नए नोटों के साथ पकड़े चुके हैं। नोट लॉन्‍च होने के बाद अफवाह उड़ी की नई करंसी में नैनो चिप का इस्‍तेमाल किया गया है, जिससे इसकी लोकेशन को आसानी से ट्रैक किया जा सकता है। हालांकि बाद में वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने इस अफवाह को खारिज कर दिया। लेकिन अब नए नोटों की इतनी संख्‍या में बरामदगी और उसके साथ लोगों के पकड़े जानें पर एक नई अफवाह फैली है। इस अफवाह के मुताबिक,  लोग चिप नहीं बल्कि बल्कि खास इंक की वजह से पकड़े जा रहे हैं। 
चिप नहीं रेडियोएक्टिव इंक है पकड़े जाने के लिए जिम्‍मेदार
सोशल मीडिया पर चली रही अफवाह की मानें तो इतनी बड़ी संख्या मे नोटोंं की बरामदगी में IT विभाग की सफलता का कारण नोट में कोई चिप नहीं बल्कि रेडियोएक्टिव इंक है।
इससे किसी भी चीज़ को ढूंढने में आसानी होती है।
हालांंकि किसी भी सरकारी ऐजेंंसी ने इस बात की पुष्टि नहीं की है।

Leave Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *